Wednesday, 14 August 2013

स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनायें ! (Happy Independence Day)

        स्वतंत्रता दिवस एक ऐसा दिन जो अमर शहीदों के बलिदान की याद दिलाता है। जो हमें भारतीय होने का एहसास दिलाता है। आज भी जब उन शहीदों के बलिदान की कहानी याद करता हूँ तो जरूर आँखों में अश्क आ ही जाते हैं। खैर ! ये दिन जितना अमर शहीदों को याद करने का है उतना ही सभी भारतीयों की जीत का जश्न मनाने का भी है। 
कल हम भारतीयों के लिए बहुत ही उत्साह वर्धक और गर्व से परिपूर्ण पर्व है -
          मैं जब छोटा था तो हर 15 अगस्त को मैं स्कूल सुबह - सुबह जाता और अपने स्कूल के प्रिन्सिपल सर को, घर में टीवी में अपने देश के प्रधानमंत्री को लाल क़िले में, और सरकारी दफ्तरों में विभाग प्रमुख द्वारा  अपना राष्ट्रीय ध्वज "तिरंगा" फहराते देखता तो गर्व महसूस करता था कि क्या किस्मत पाई है कि वो लोग अपना "तिरंगा" फहरा रहे हैं। ऐसे में उन लोगों के प्रति सम्मान की भावना और भी बढ़ जाती थी। और ये भी सोचता था कि वो भी खुद में कितना गर्व महसूस करते होंगे कि उन्हे ये सुनहरा मौका मिला है कि देश का तिरंगा इस पावन दिन के लिए फहराने मिल रहा है। 
          पिछली 15 अगस्त 2012 को जब पहली बार मुझे ये सौभाग्य मिला, तो मेरा सीना भी गर्व से फूल गया कि मैं तिरंगा फहरा रहा हूँ। वैसे मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं भी कभी अपने ऑफिस में तिरंगा फहराऊंगा... 
          पर किस्मत ने मुझे भी वही सम्मान दिया जिसकी मैं कल्पना दूसरों के लिए किया करता था या यूं कहूँ के खुद तिरंगे ने मुझे इसके लिए चुना है, फिर चाहे बहाना कुछ भी हो। 
कल 15 अगस्त 2013 को फिर मैं अपने ऑफिस मे तिरंगा फहराऊंगा तीसरी बार। सोच कर ही अजीब सी खुशी महसूस हो रही है। :)
तो दोस्तों !
         कल की कहानी कल सुनाऊँगा, हो सकता है कि हर रोज की तरह कल फिर कोई नया अनुभव मिले... 
जाते - जाते स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ बस इतना कहना चाहूँगा कि - 

वो मंज़र भी बड़ा अजीब होता है, 
जब कोई अपने देश के लिए शहीद होता है... 
यूं तो हर किसी को ये मुकाम नहीं मिलता माही !
देश पे मर मिटने वाला बहुत खुशनसीब होता है...

जय हिन्द दोस्तों !